• Ramayana Vishavruksham Hindi
    • fb
    • Share on Google+
    • Pin it!
  • रामायण विषवृक्षं - हिन्दी

    Ramayana Vishavruksham Hindi

    Author:

    Pages: 716
    Language: Hindi
    Rating
    4 Star Rating: Recommended
    4 Star Rating: Recommended
    4 Star Rating: Recommended
    4 Star Rating: Recommended
    4 Star Rating: Recommended
    '4/5' From 1 votes.
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    '0/5' From 0 premium votes.
Description

यह मूल तेलुगु पुस्तक रामायण विषवृक्षं का अनुवाद है।

रामायण विषवृक्षं तीन अलग-अलग भागों में एक के बाद एक 1974, 1975 और 1976 में प्रकाशित हुई। पहला भाग 7 बार दुसरा भाग 6 बार और तीसरा भाग 4 बार मुद्रित हुए। 2005 में तीनों भागों को एक ही खंड में करके नया संस्करण प्रकाशित हुआ। यह नया संस्करण 2005 से लेकर अब तक 10 बार मुद्रित हो चुका है।

मूल तेलुगु पुस्तक वाल्मीकि रामायण के तेलुगु अनुवाद पर आधारित है। यह अनुवाद 18वीं सदी के आखिरी दशक और 19वीं सदी के पहले दशक में दो प्रमुख परम्परागत विद्वानों ने किया था। चदलवाडा सुन्दर राम शास्त्रुलु जी और गद्दपल्लि शेषाचार्युलु जी।।

प्रस्तुत हिन्दी अनुवाद 2005 के तेलुगु संस्करण पर आधरित है। इस किताब का अंग्रेजी अनुवाद Ramayana, The Poisonous Tree नाम से अगस्त 2004 में प्रकाशित हो चुका है।)

- रंगनायकम्मा

नोट: ई-पुस्तक का आकार " रामायण विषवृक्षं - हिन्दी " 5mb है
Preview download free pdf of this Hindi book is available at Ramayana Vishavruksham Hindi