• Telugu Saahitya Ek Avalokan
  • Ebook Hide Help
    ₹ 60 for 30 days
    ₹ 180
    225
    20% discount
    Print Book Help
    Out of stock
    • fb
    • Share on Google+
    • Pin it!
  • तेलुगु साहित्य: एक अवलोकन

    Telugu Saahitya Ek Avalokan

    Language: Hindi
    Rating
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    Be the first to vote
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    0 Star Rating: Recommended
    '0/5' From 0 premium votes.
Description

डॉ. गुर्रमकोंडा नीरजा पिछले कई वर्षो से द्विभाषी हिंदी पत्रिक 'स्रवंति' की सह-संपादक तथा इंटरनेट ब्लॉग ‘सागरिका’ की लेखक के रूप में हिंदी भाषा और साहित्य की सेवा के साथ साथ विशेष रूप से तेलुगु साहित्य के विविध पक्षों पर समीक्षात्मक निबंध लिखकर अपनी मात्रुभाषा तेलुगु की भी समर्पित भाव से सेवा करती रही हैं। समय समय पर किए गए उनके तेलुगु साहित्य संबंधी लेखन की देश-विदेश के हिंदी पाठकों ने सरहना की है। यहाँ तक की 'हिंदी विकीपीडिया' पर तेलुगु साहित्य विषयक सामग्री के संयोजन,लेखन और संपादन के लिए भी आमंत्रित किया गया।

प्रस्तुत पुस्तक ' तेलुगु साहित्य: एक अवलोकन ' में लेखिका डॉ. जी. नीरजा ने तेलुगु के अनेक प्रतिष्टित साहित्यकारों का साहित्यिक परिचय देते हुए जहाँ एक ओर इस बात का खयाल रखा है कि सूचना और विवेचन दौनों का मणिकांचन संयोग हो सके, वहीं यह भी ध्यान रखा है कि इन निबधों के माध्यम से हिंदीभाषी समाज आंध्र प्रदेश के सामाजिक - सांस्क्रुतिक वैशिष्ट्य को भी ह्रदयंगम कर सके। विषयवस्तु की द्रुष्टि से यह निबंध संग्रह तेलुगु साहित्य के विविध कालों, विविध विधा प्र्कारों, विविध प्रव्रुत्तियों और विविध साहित्यकारों को समेटे हुए है।

Preview download free pdf of this Hindi book is available at Telugu Saahitya Ek Avalokan